Sanwaliya Seth Ke Chamatkar-2

IMG-20160825-WA0000

 

सांवलिया सेठ के दरबार में एक नीमच निवासी किशन पंहुचा वह अपनी मनोकामना पूर्ण हो जाने पर संकल्प के अनुसार ब्लेड से अपनी जिव्हा काटकर श्री सांवलिया सेठ के चरणों में चढ़ा दी । खून बहने पर मंदिर के कर्मचारी एकत्र हुए और तुरंत उसकी जिव्हा एक पॉलीथिन में रखकर उसे चिकत्सालय ले जाने का उपक्रम किया । चिकित्सको के प्राथमिक उपचार के पश्चात उसे अहमदाबाद रेफर किया गया व रात्रि होने के कारण भक्त को धर्मशाला के कमरा नं. ५९ में रखा गया । सुबह अहमदाबाद ले जाने के लिए जब उठाया गया तो अलौकिक चमत्कार देखने को मिला , की भक्त किशन की पूरी जिव्हा मौजूद थी और पॉलीथिन में कटी हुई  जिव्हा पास ही रखी हुई थी । यह देख कर उपस्थित  भक्त सांवलिया सेठ की जय-जयकार करने लगे |
॥ जय श्री सांवलिया सेठ ॥  

ALSO READ  कैसे कहलाये सांवलिया सेठ ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *