जहां व्यापारी भगवान के साथ करते हैं पार्टनरशिप

॥ जय श्री सांवलिया सेठ ॥ बोल कर अधिक से अधिक इस पोस्ट को शेयर एवम लाइक करें, सेठ जी आपकी मनोकामना अवश्य पूरी करेंगे |

|| जय श्री साँवलिया सेठ ||

व्यापार में अच्छे लाभ के लिए एक व्यापारी का दूसरे व्यापारी के साथ पार्टनरशिप करने की बात आपने जरूरी सुनी होगी। लेकिन भारत के श्री साँवलिया सेठ मंदिर ऐसा  हैं जहां व्यापार में लाभ के लिए लोग भगवान श्री साँवलिया सेठ को ही अपना पार्टनर बना लेते हैं।
सुनकर आप हैरान भले ही हो लेकिन यह सच है, व्यापारी भगवान को कुछ प्रतिशत की पार्टनरशिप देते हैं। व्यापार में लाभ होने पर भगवान का हिस्सा उन्हें दे दिया जाता है और यह हिस्सा  मंदिर के दान-पात्र, भंडार , हुंडी या फिर कार्यालय या नेट बैंकिंग से  जमा कराते है ।
Business Partner Sanwaliya Seth Chittorgarh Rajasthan

Business Partner Sanwaliya Seth Chittorgarh Rajasthan

जिन लोगों को व्यापार में बार-बार नुकसान हो रहा होता है वह इस मंदिर में आकर भगवान सांवरिया सेठ  से मन्नत मांगते है की मेरे  व्यापार में फायदा होने पर में आपको इतना हिस्सा भेट करूंगा इस तरह साँवलिया सेठ को अपना बिजनेस पार्टनर बना लेते हैं।
नया कारोबार शुरू करने वाले व्यापारी भी किसी भी प्रकार की समस्या से बचने के लिए भगवान को पार्टनर बनाने यहां आते हैं।

मंदिर में विराजमान सांवरिया सेठ भगवान श्री कृष्ण हैं। भगवान श्री कृष्ण के इस विग्रह के विषय में मान्यता है कि यह वही विग्रह है जिसकी भक्ति संत नरसी मेहता करते थे।भगवान श्री साँवलिया सेठ का संबंध मीरा बाई से भी  बताया जाता है। किवदंतियों के अनुसार साँवलिया सेठ मीरा बाई के वही गिरधर गोपाल है जिनकी वह पूजा किया करती थी।

 

Business Partner Sanwaliya Seth Chittorgarh Rajasthan

Business Partner Sanwaliya Seth Chittorgarh Rajasthan

 

॥ जय श्री सांवलिया सेठ ॥ बोल कर अधिक से अधिक इस पोस्ट को शेयर एवम लाइक करें, सेठ जी आपकी मनोकामना अवश्य पूरी करेंगे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *