श्राद्ध पक्ष आज से प्रारम्भ, जानिए श्राद्ध के फल, नियम, कथा

॥ जय श्री सांवलिया सेठ ॥ बोल कर अधिक से अधिक इस पोस्ट को शेयर एवम लाइक करें, सेठ जी आपकी मनोकामना अवश्य पूरी करेंगे |

Shradh Paksh or Pitr Paksh

Shradh Paksh or Pitr Paksh

Shradh Paksh or Pitr Paksh

भाद्रपद मास की पूर्णिमा से लेकर आश्विन मास की अमावस्या तक का समय पितरों के तर्पण, श्राद्ध व पिंडदान के लिए उत्तम माना गया है। इन 16 दिनों को ही श्राद्ध पक्ष कहते हैं। धर्म ग्रंथों के अनुसार, जिस तिथि को सगे-संबंधी की मृत्यु हुई हो, उसी दिन उनके निमित्त श्राद्ध करना चाहिए। यही श्राद्ध का नियम है।

आप भी जानिए निचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करके :

 

 

॥ जय श्री सांवलिया सेठ ॥ बोल कर अधिक से अधिक इस पोस्ट को शेयर एवम लाइक करें, सेठ जी आपकी मनोकामना अवश्य पूरी करेंगे |
ALSO READ  !! श्री श्रेष्ठ सांवलिया सेठ जी के दरबार में मधुर भजन संध्या का आयोजन आज !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *