दशामाता की आरती

॥ जय श्री सांवलिया सेठ ॥ बोल कर अधिक से अधिक इस पोस्ट को शेयर एवम लाइक करें, सेठ जी आपकी मनोकामना अवश्य पूरी करेंगे |

Dasha Mata Ki Aarti – दशामाता की आरती

Dasha Mata Ki Aarti - दशामाता की आरती

Dasha Mata Ki Aarti – दशामाता की आरती

आरती श्री दशा माता की |
जय सत-चित्त आनंद दाता की |
भय भंजनि अरु दशा सुधारिणी |
पाप -ताप-कलि कलुष विदारणी|
शुभ्र लोक में सदा विहारणी |
जय पालिनी दिन जनन की |
आरती श्री दशा माता की ||

अखिल विश्व- आनंद विधायिनी |
मंगलमयी सुमंगल दायिनी |
जय पावन प्रेम प्रदायिनी |
अमिय-राग-रस रंगरली की |
आरती श्री दशा माता की ||

नित्यानंद भयो आह्लादिनी |
आनंद घन आनंद प्रसाधिनी|
रसमयि रसमय मन- उन्मादिनी |
सरस कमलिनी विष्णुआली की |
आरती श्री दशा माता की ||

katha2 katha3 katha4 katha5 katha6 katha7 katha8 katha9 katha10

॥ जय श्री सांवलिया सेठ ॥ बोल कर अधिक से अधिक इस पोस्ट को शेयर एवम लाइक करें, सेठ जी आपकी मनोकामना अवश्य पूरी करेंगे |
ALSO READ  दशामाता व्रत कथा 7

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *